Black Hole Explained in Hindi

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Black Hole Explained In HindiBlack Hole Explained In Hindi… कृष्ण छिद्र क्या है?

Black Hole एक ऐसा दैत्य है जो अपने आप में बहुत से रहस्य समाए हुए है Black hole के बारे में जानकारी देने वाले व्यक्ति Professor John Michell (1724-1793) थे फिर इनके बाद Pierre Simon (1749-1827) ने अपनी Book The System Of The World में Black Hole के बारे में विस्तार से चर्चा की। Black Hole Explained in Hindi


BlackHoleUniverse में एक ऐसी Body है जिसके पार Light भी नहीं जा सकती, अंतरिक्ष में Blackhole के आस-पास की कोई भी Body जैसे Starts, Planets, Dust यहाँ तक की Galaxy भी इसमें समा जाती है, Black Hole के जितना करीब जाते हैं उतना समय का भी प्रभाव कम हो जाता है, Black Hole के अन्दर समय का कोई अस्तित्व ही नहीं है।

How Black Hole Formed In Hindi

Blackhole बहुत अधिक Density वाली एक Body है। अगर Universe में किसी भी वस्तु को बहुत सूक्ष्म कर दिया जाए तो उसका घनत्व उसकी Gravity से अधिक हो जाएगा कि, उसके बाहर रौशनी का भी जाना सम्भव नहीं हो पाएगा और वही चीज़ Black Hole कहलाएगी। Example से समझिए- यदि हमारी पृथ्वी को Compress कर के 1.4 Cm Radius वाला गोला बना दिया जाए तो उसकी Gravity बढ़ जाएगी और वह Black Hole बन जाएगी।

How Stars Formed In Hindi 

धूल और Gas के बने हुए बादलों को निहारिका या Nebula कहते हैं। Universe में मौजूद धूल और Gas के मिलने से एक तारे का निर्माण होता है। Nebula में Hydrogen की मात्रा सबसे अधिक होती है और लगभग 25% Helium होती है। जब High Pressure से Nebula और Gas आपस में टकराती है तो Hydrogen के Nucleus भी आपस में टकरा जाते हैं और एक Helium का निर्माण होता है फिर एक तारे का निर्माण होता लेकिन इस Process में कई करोड़ों साल बीत जाते हैं। 

 

Black Hole Explained In Hindi

हमारे सूर्य का निर्माण भी ऐसे ही हुआ था। जब तारों में मौजूद Hydrogen धीरे-धीरे समाप्त होने लगती है तो तारा अपनी ही Gravity के कारण सिकुड़ने लगता है और फिर एक Blast होता है जिसे Supernova कहते हैं यदि इस Blast के बाद उस तारे का कोई घनत्व बचता है तो वह एक Neutron Star बन जाता है और ये Neutron Star भी एक Compress Limit के बाद उसका Space और Time भी अस्तातिव में नहीं रहता और अदृश्य हो जाता है। यही अदृश्य पिंड एक Black Hole का निर्माण करते हैं किसी Blackhole का सम्पूर्ण द्रव्यमान (Mass) एक छोटे से बिंदु में केन्द्रित रहता है जिसे Central Singularity Point कहते हैं इस बिंदु के आस-पास की गोलाकार सीमा को Event Horizon कहा जाता है। इस Event Horizon के बाहर कोई भी वस्तु नहीं जा सकती यहाँ तक की Light भी नहीं।

Einstine की Special Throry Of Relativity के अनुसार Black Hole की सीमा पर खड़े व्यक्ति की घड़ी बहुत ही धीमी हो जाएगी या उसके लिए समय का कोई महत्त्व नहीं रह जायेगा। याद रखिए कि, समय Universe में अलग-अलग है यह हर जगह एक जैसा नहीं है जैसे पृथ्वी पर जो भी समय चल रहा है कहीं Universe में इस से तेज़ या इस से धीरे भी कहीं समय चल रहा होगा इसे Time Delusion कहते हैं।

Black Hole के अन्दर जाने पर किसी भी चीज़ के Atom बिखर कर टूट जाएँगे और वे किसी अज्ञात अँधेरे केंद्र में चले जाएँगे जिसके बारे में भौतिकी के वैज्ञानिक कुछ भी नहीं जानते हैं।

Black Hole Explained

Types Of Blackhole In Hindi

ऐसा तारा जो हमारे सूर्य से कुछ गुना अधिक बड़ा होता है और Gravity के कारण वह Black Hole बना है उसे Steller Mass Blackhole कहा जाता है।

ऐसे Black Hole जिसका निर्माण किसी Galaxy के बीच में हुआ है उसे Super Massive Blackhole कहा जाता है। ऐसे Blackholes का Mass हमारे सूर्य से लाखों गुना अधिक होता है।


हमारी Galaxy Milky Way के बीच भी एक Black Hole है जिसका Mass हमारे सूर्य से एक करोड़ गुना अधिक है।

वो Blackhole जिनका द्रव्य मान हमारे सूर्य से कम होता है जिनका निर्माण Gravity Compression के कारण नहीं बल्कि अपने केंद्र के Pressure के कारण हुआ है उसे Primordial या Small Black Hole कहा जाता है। वैज्ञानिकों का मानना है कि, इनका निर्माण Universe के बनने के साथ ही हुआ होगा Stephen Hawkins का मानना है कि, हम ऐसे Black Holes की Study कर के बहुत कुछ पता लगा सकते हैं।


बहुत से लोगों के मन में ये बात जरूर आती होगी कि, Black Hole Light को भी निगल जाता है और यह अदृश्य होता है तो वैज्ञानिक Blackhole का पता कैसे लगा लेते हैं। इसका बड़ा सीधा सा Answer है कि, ऐसे में उसके चारों तरफ की चीजें एक केंद्र की और जाती हुई दिखाई देती है इसलिए वैज्ञानिक Blackhole का पता आराम से लगा लेते हैं।

Some Facts About Blackhole In Hindi:

1. Black Hole सही मायने में कोई छिद्र नहीं है वे किसी मरे हुए तारे के अवशेष हैं

Blackholes Are Not Any Holes They Actually Are The Leftover Of A Star.

2. करोड़ों सालों के बाद जब कोई तारा मरता है तो वह किसी Blackhole के रूप में जन्म लेता है

After A Time Period Of Million Years When A Star Died It Turned Into A Blackhole.

3. Blackhole किसी भी वस्तु को अपनी और आकर्षित कर सकता है जैसे तारे, Planets Asteroid आदि

Blackhole Can Attract Anything Weather It Is Planets, Stats, Nebula Or A Whole Galaxy.

4. दुनिया के सामने आने वाला पहला Black Hole Cygnus X-1 था

First Blackhole Was Signus X1.

To Know about God Story in Hindi- Click Here

Article अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें, जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख आपके नाम के साथ Bhannaat.com पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप Wordparking@Gmail.Com पर भेजें, साथ ही Twitter@Bhannaat पर फॉलो करें।

धन्यवाद !!!


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *