Insurance And It’s Type Explained In Hindi

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Insurance And It's Type Explained in HindiInsurance And It’s Type Explained In Hindi (बीमा क्या है और उसके प्रकार)

बहुत दिनों से इस topic के बारे में सोच रहा था, लेकिन समय और समझ की कमी के कारण से नहीं लिख पाया। इस topic पर बहुत study करने के बाद आज मैं इस टॉपिक पर लिख रहा हूँ। Insurance एक तरह की policy है जो कोई भी व्यक्ति अपने personal, family या company को secure करने के लिए करवाता है। insurance कई तरह का होता है जैसे auto insurance, health insurance, homeowners insurance और life insurance। america जैसे विकसित देशों में सभी लोगों को कानूनी तौर पर कोई न कोई insurance करवाना पड़ता है लेकिन यह नियम India में नहीं है। भारत में लोग किसी भी बीमा को अपनी इच्छा अनुसार करवा सकते हैं। (Insurance And It’s Type Explained In Hindi)

“दूसरे शब्दों में कहे तो बीमा एक ऐसी व्यवस्था है जिसके द्वारा कोई भी कम्पनी किसी कम्पनी, वस्तु या व्यक्ति की मृत्यु, बीमारी आदि में आपको हुई हानि का मुआवजा देती है”

Business insurance थोड़ा special type का बीमा होता है जो कि, व्यापार में होने वाले जोखिम को कम करता है। उदहारण के तौर पर ले लीजिए:

किसी fast food restaurant को ऐसी बीमा policy की आवश्यकता है जो कि, खाना पकाते हुए हुई किसी भी दुर्घटना को कम कर सके, कुछ विशेष परिस्थितियों के लिए भी अलग-अलग तरह के insurance available हैं, जैसे kidnapping और ransom (अपहरण और फिरौती), medical, किसी विशेष बीमारी के लिए आदि इस type के insurance को errors and omissions insurance कहते हैं।

● Insurance policy लेते समय किन बातों का ध्यान रखें?

बीमा पालिसी में 3 बातों का ध्यान देना जरूरी है premium, policy limit और deductible…

● Accidental policy in Hindi:

Accidental policy यानी दुर्घटना बीमा योजना वह scheme है जिसमे policy holder को एक निश्चित धनराशि जमा करनी होती है और किसी प्रकार की दुर्घटना हो जाने पर, गम्भीर या छोटी-मोटी चोट लग जाने पर या विकलांग हो जाने पर hospital का खर्चा मिल जाता है और मृत्यु हो जाने पर उसके nominee को policy की नियम व शर्तों के अनुसार accidental cover मिल जाता है।

● Premium insurance policy in Hindi:

Premium बीमा योजना normally मासिक होती है, जिसे हर महीने देना पड़ता है जो कि, आप पर या आप के व्यापार पर निर्भर करता है। जैसे की आप एक ड्राइवर है और आप का driving record अच्छा नहीं है तो आपको अधिक monthly instalment देनी पड़ेगी, लेकिन कोई और driver जिसका driving record अच्छा है तो उसे इन्स्टालमेन्ट कम देनी पड़ेगी। अधिकतर लोग ऐसी policy को लेते समय अलग अलग company की पालिसी को check करते हैं जो उनके हिसाब से fit होती है उसे ही select करते हैं।

Insurance And It's Type ExplainedLife insurance in Hindi

यह एक ऐसा बीमा है जिस से कोई भी व्यक्ति निश्चित मूल्य जमा कर के करवा सकता है, इसमें policy किए गए व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर उस व्यक्ति के nominee को policy के नियमों व शर्तों के अनुसार पैसे दिए जाते हैं। जीवन बीमा को लोग अपने परिवार को secure करने के लिए करवाते हैं ताकि उनके इस दुनिया से जाने के बाद भी उनके परिवार पर कोई आर्थिक संकट न आए।

● Health insurance in Hindi:

Health insurance को Special Considerations insurance भी कहते हैं, यह वह इन्शुरन्स है जो आपके स्वास्थ्य से सम्बन्धित है, यह उन लोगों के लिए बहुत जरूरी है जो अधिक बीमार रहते हैं या जिन्हें बार-बार medical checkup की आवश्यकता होती है। इस पालिसी का एक लाभ यह भी है कि इसकी monthly इन्स्टालमेन्ट बहुत कम होती है।

● Vehicle insurance in Hindi:

Vahicle insurance यानी वाहन बीमा योजना एक तरह का protection है जिस में आपको कुछ निश्चित राशि जमा करनी होती है जिसका लाभ यह है कि, वाहन के चोरी हो जाने पर या किसी प्रकार का accident हो जाने पर आपको वाहन का मुआवजा मिल जाता है ऐसे में आपको बहुत अधिक हानि नहीं होती।

● Home insurance in Hindi:

Home insurance में आपके घर के size और material के अनुसार policy को design किया जाता है इसमें company घर का या घर में समान के damage होने पर आपको मुआवजा देती है। यह बीमा घर गिर जाने, घर के सामान के चोरी हो जाने या घर के जल जाने पर काम आता है।

● Travel insurance in Hindi:

यदि आप family के साथ कही travel करते हैं तो यात्रा बीमा आपके बहुत काम आ सकता है। ऐसे में यात्रा में देरी हो जाना, cancel हो जाना या यात्रा के दौरान दुर्घटना हो जाने पर आप company पर claim कर सकते हैं।

● Farmer/Crop insurance in Hindi:

यदि आप खेती किसानी से जुड़े हैं तो आप को साल भर का crop insurance करवाना बहुत जरूरी है क्योंकि बारिश का कोई भरोसा नहीं सही time पर होगी या नहीं। यदि आप ने फसल बीमा करवाया है तो बारिश न होने पर या फसल के किसी अन्य कारण से खराब हो जाने पर बीमा कम्पनी फसल की भरपाई करती है।

कभी भी किसी भी प्रकार का बीमा करवाने पर आप बीमा कम्पनी की term insurance policy और conditions को ध्यान से पढ़ लें ताकि claim करते वक़्त आपको किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।

To Know more about Work Management in Hindi- Click Here

Article अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें, जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख आपके नाम के साथ Bhannaat.com पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप Wordparking@Gmail.Com पर भेजें, साथ ही Twitter@Bhannaat पर फॉलो करें।

धन्यवाद !!!

Tags: व्हाट इज इन्शुरन्स इन हिंदी, इन्शुरन्स क्या है, insurance term and conditions in hindi, term insurance in hindi, what is insurance in hindi, defination of insurance in hindi, define insurance and its type in hindi, bima kitne prakar ka hota hai, bima ke prakar, bima kya hota hai, jiwan, bima yojna ke fayde , insurance quotes in hindi, insurance thoughts in hindi, use of insurance, beema ke fayde, beema ke nuksaan, benefit of insurance, explain insurance, why insurance is necessary, insurance companies, insurance facts in hindi


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *